Tuesday, January 6, 2009

बेजुबान एहसास

जो करता है तुमसे प्यार
वो ही देता है तकलीफ हज़ार
उसके दिल में होता है
तुम्हारी हर बात के लिए इकरार
करो तुम चाहे उस से कितना भी इनकार
लगेगा वो तुम्हे प्यारा हर बार
रूठ जाओगे तोह मनायेगा वो
हर बात पर तुमसे करेगा तकरार
पर एक बार उस से कह कर देखना
जिंदगी भर करेगा तुम्हारा इन्तेज़ार
तुम्हारे हर दुःख को अपनाकर
देगा तुम्हे खुशियाँ हज़ार
करेगा तुम्हारी हिफाज़त कुछ वैसे ही
जैसे फूलों की हिफाजत कांटे करते है हर बार
पलक

3 comments:

अक्षय-मन said...

bahut accha likha hai palak ji

Purvi said...

wonderful pal..

Anonymous said...

Jab se ehsaas tera dil mein utara maine
Band aankhon se bhi dekha nazara maine
Yaadon ki kitaabon me saja ke rakhunga har lamha
Jo tere sang guzara maine


Pearl...