Wednesday, July 22, 2009

दर्द ...!!!!



आँसू-ओं के चलने की आवाज़ नही होती,
दिल के टूट ने की आहात नही होती,
अगर होता खुदा को हर दर्द का एहसास,
तो उसे दर्द देने की आदत नही होती!

1 comment:

myloverswish.com said...

Unhe Aadat Hai Zakhm Dene Ki, Apni To Fitrat Hai Gham Chupaane Ki. Abto Aadat Si Padh Gayi Hai Aasu Pi Jaane Ki Kya Haseen Saza Di Hai Zaalim Ne Dil Lagane Ki...